Cloud computing kya hai? - शुरुआती गाइड in hindi - Web India Crown - Hindi blog

Cloud computing kya hai? - शुरुआती गाइड in hindi

Share This
Cloud computing kya hai?

में पहले आपको सवाल करुँगा की आप अपने mobile में या laptop में songs, file, image कहा पे रखते हो. जो एक Storage में वो भी एक offline storage कहा जाता है. but इस post में Cloud के बारे में चर्चा करने जा रहा हुं जो online storage कहा जाता है.

क्या आप जानते है Cloud storage के बारे में शायद कुछ लोग "हा" जवाब देगा और कुछ लोग "ना" जवाब देगा और कुछ लोग regular internet पर जुड़े रहते है वो भी अनजान हो सकता है. मेरे राय से जानकर बने तो अच्छा है. क्या आपको जानने में और online पढ़ने में रुची सकते है तो अच्छा है और मुझे भी यह पसंद है.

तो Cloud के बारे में जानना चाहते हो तो नीचे से पढ़ना जारी रखे.


Cloud computing kya hai

आपको ये Cloud words mean में बादल समझते है है ना. वो एक बादल जरूर है परतुं online storage का नाम दिया गया है जो बादल की तरह अनन्त है और Cloud computing भी कहते है.

सरल शब्दों में कहें, क्लाउड इंटरनेट है - और विशेष रूप से, आप इसे इंटरनेट पर distant रूप से उपयोग कर सकते है. जब कुछ बादल में है, इसका मतलब है कि यह आपके कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव के बजाय इंटरनेट सर्वर पर संग्रहीत है.

डेटा, जो हम मोबाइल, कंप्यूटर और पेन ड्राइव आदि में संग्रहीत करते हैं, यह डेटा संग्रहण का डिजिटल माध्यम कहा जाता है. क्लाउड स्टोरेज Data store का एक virtual माध्यम है, डेटा आपके फोन या कंप्यूटर की स्थानीय ड्राइव में नहीं है.

आपके कंप्यूटर का डिजिटल डेटा अन्य कंपनी के सर्वर पर संग्रहीत है और आप इस डेटा को कई तरीकों से एक्सेस कर सकते है. यह डेटा होस्टिंग कंपनी द्वारा प्रबंधित किया जाता है इसमें ऐप डेटा संग्रहण के लिए समर्थित है क्लाउड स्टोरेज में डेटा को संग्रहित करने की जगह विभिन्न कंपनियों द्वारा प्रदान की जाती है.

अगर अपने कंप्यूटर की स्थानीय ड्राइव पर अपने डेटा, सॉफ़्टवेयर या प्रोग्राम को संग्रहीत न करें, अगर यह इंटरनेट पर संग्रहीत है या इंटरनेट से एक्सेस किया गया है, तो इसे Cloud Computing कहा जाता है. यदि आपके मनमे जरूर सवाल होगा की Cloud Computing काम कैसे करता है और आपका जवाब जरूर नीचे मिला जा सकता है तो पढ़ने जारी रखे.


Cloud computing कैसे work करता है.

Cloud कंप्यूटिंग सिस्टम व्यक्तिगत क्लाइंट उपकरणों पर डेटा फ़ाइलों की प्रतियां साझा करने के बजाय, इंटरनेट सर्वर पर अपने महत्वपूर्ण डेटा रखता है.

उदाहरण के लिए, वीडियो-साझाकरण क्लाउड सेवाओं जैसे Netflix पर भेजने के बजाय, प्लेयर को डिलीवरी डेटा भेजना या डिवाइस पर Physical disk को लुप्त करना जो कि इंटरनेट पर स्ट्रीम डेटा को देखता है.

Cloud सेवाओं का उपयोग करने के लिए क्लाइंट को इंटरनेट से कनेक्ट होना चाहिए, जरूर जानते होंगे Xbox Live सेवा पर कुछ वीडियो गेम्स, उदाहरण के लिए, केवल ऑनलाइन (not on physical disc) प्राप्त किया जा सकता है, जबकि कुछ अन्य भी कनेक्ट किए बिना भी नहीं चलाए जा सकते.

Cloud computing नेटवर्क की सहायता से software, resources, और सूचना साझा करने की प्रक्रिया होती है. जानकारी को physical servers पर Stored किया जा सकता है जो क्लाउड कंप्यूटिंग प्रदाता की सहायता से नियंत्रित होते है और उपयोगकर्ता इंटरनेट की सहायता से क्लाउड में संग्रहीत जानकारी तक पहुंच सकते है.

Cloud computing तब होता है जब Computerized सिस्टम की प्रक्रियाओं और गणना distant तरीके से होती है ऐसे ग्राहक जो इन सेवाओं की खरीद के लिए साइन-इन करते हैं, उन्हें वेब ब्राउजर या विशेष Computerized कार्यक्रमों की सहायता से ऑनलाइन एक्सेस कर सकते है जहां एक विशिष्ट कार्य के लिए विभिन्न variable इनपुट होते है.

अगर आप एक ऑनलाइन business शुरू करना है जैसे website या blog बनाना है तो Cloud computing best hosting है कई provider online है जो Cloud computing सेवा देता है परतुं ये महंगा (monthly 500rs के आसपास हो सकता है) पड़ सकता है.


Why use the cloud?

Cloud का उपयोग करने के कुछ मुख्य कारण सुविधा और Reliability भी है जैसे उदाहरण के लिए, यदि आपने कभी भी वेब आधारित ईमेल सेवा, जैसे जीमेल या याहू! मेल, आपने पहले से क्लाउड का उपयोग किया है वेब-आधारित सेवा में सभी ईमेल आपके कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव की बजाय सर्वर पर संग्रहीत की जाती है.

इसका मतलब है कि आप इंटरनेट कनेक्शन के साथ किसी भी कंप्यूटर से अपने ईमेल का उपयोग कर सकते है इसका भी अर्थ है कि यदि आपके कंप्यूटर पर कुछ हुवा तो आप अपने ईमेल Recover करने में सक्षम होंगे.

चलिए cloud का उपयोग करने के कुछ सबसे सामान्य कारणों पर गौर करते है.

File storage: आप फ़ाइलों और ईमेल सहित क्लाउड में सभी प्रकार की जानकारी संग्रहीत कर सकते हैं इसका मतलब है कि आप इन चीजों को किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस से इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक्सेस कर सकते हैं, न कि आपका होम कंप्यूटर। ड्रॉपबॉक्स और Google ड्राइव कुछ सबसे लोकप्रिय क्लाउड-आधारित संग्रहण सेवाएं है.

Backing up data: आप अपनी फ़ाइलों की सुरक्षा के लिए क्लाउड का उपयोग भी कर सकते हैं। मोज़ी और कार्बोनेट जैसी ऐप्स स्वचालित रूप से आपके डेटा को क्लाउड में बैक अप लेते हैं। इस तरह, यदि आपका कंप्यूटर कभी खो गया है, चोरी हो चुका है, या क्षतिग्रस्त है, तो आप अभी भी क्लाउड से इन फ़ाइलों को पुनर्प्राप्त करने में सक्षम होंगे.

File sharing: बादल एक ही समय में कई लोगों के साथ फ़ाइलें साझा करना आसान बनाता है. उदाहरण के लिए, आप Flickr or iCloud फ़ोटो जैसी क्लाउड-आधारित फोटो सेवा में कई फ़ोटो अपलोड कर सकते हैं, फिर उन्हें अपने मित्रों और परिवार के साथ साझा कर सकते है. 

तो इसके लिए जरुरी है ऊपर बताया तीन सामान्य कारणों में केवल उपयोग नहीं होता उसके अलावा भी उपयोग लिया जाता, ये तीन कारण समझ ने में आपको आसान हो सके इसलिए सूची बनाई.

मुझे पूरी उम्मीद है आप Cloud computing kya hai? उसे परिचित बन चुके है और अपने friends और family तक शेयर करें जिससे वो जान सके अगर आप Cloud computing के बारे में और अधिक जानकारी है तो हमे बताए या guest post द्वारा बताये.

मैंरा ये प्रयत्न हर तरह रहा है जो reader को हेल्प करना, तो आपको हमारी आशा पूरी करने की जरूरत है इसलिए ये articles को Social media जैसे Facebook, Google plus और twitter पर शेयर करें और ऐसे articles हमारे reader के लिए आगे भी लिखना जारी रखुँगा.

आप हमें नीचे comment में बताए की ये articles कैसे लगा।!



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad